पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के साथ स्थानीय लोगों के हितों का ख्याल सर्वोपरी -गोविंद ठाकुर

पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के साथ स्थानीय लोगों के हितों का ख्याल सर्वोपरी -गोविंद ठाकुर

  • अटल टनल व गुलाबा तक पर्यटन गतिविधियां सुचारू रखने के लिये उप-समितियों का गठन
कुल्लू । शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि मनाली पर्यटन की दृष्टि से देसी व विदेशी सैलानियों का पसंदीदा गंतव्य है। सैलानियों को सुविधाएं प्रदान करने के लिये जहां प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है, वहीं स्थानीय लोगों के सहयोग व भागीदारी की भी आवश्यकता है। वह मनाली में अटल टनल साउथ पोर्टल तथा गुलाबा तक पर्यटन गतिविधियां विपरीत मौसम के दौरान जारी रखने के संबंध में स्थानीय प्रशासन व पर्यटन व्यवसाय से जुड़ी विभिन्न एसोसियेशनों के प्रतिनिधियों के साथ विचार-विमर्श के लिये बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
गोविंद ठाकुर ने कहा कि पर्यटन सीजन में स्थानीय लोगों के साथ होटल, टैक्सी, साहसिक खेल जैसी गतिविधियों से जुड़ी एसोसियेशनों के हितों का ख्याल सर्वोपरी है। उन्होंने कहा कि हाल ही में हुई बर्फबारी के चलते सैलानियों की आमद में बड़ा इजाफा हुआ है और टैªफिक जाम जैसी समस्याएं यदा-कदा स्वाभाविक है। उन्होंने इस संबंध में पुलिस विभाग को अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती को कहा। उन्होंने कहा कि सैलानी अथवा कोई भी वाहन चालक यदि नियमों की अनुपालना करते हुए सड़क पर चले तो जाम की समस्या नहीं होगी।
गोविंद ठाकुर ने कहा कि आने वाले दिनों में और अधिक पर्यटक मनाली आएंगे। सभी एसोसियेशनों तथा स्थानीय लोगों को सैलानियों के स्वागत के लिये तैयार रहना है। उन्होंने कहा कि अत्यधिक ठंड के चलते गुलाबा की ओर तथा अटल टनल के समीप सड़क पर कोहरा जम जाता है जिसके कारण वाहन दुर्घटना का खतरा बढ़ जाता है। इस बात को भी जहन में रखना जरूरी है। उन्होंने स्थानीय प्रशासन तथा एसोसियेशनों से अटल टनल व दूसरी ओर गुलाबा तक पर्यटकों की आवााजाही को लेकर विस्तारपूर्वक चर्चा की। उन्होंने कहा अत्यधिक बर्फबारी के दौरान इन स्थानों तक वाहनों की अनुमति नहीं दी जा सकती क्योंकि वाहन कहीं पर भी फंस सकते हैं और हादसा हो सकता है। उन्होंने कहा यदि मौसम साफ बना रहता है और सड़कों पर कोहरे की समस्या नहीं रहती तो ऐसे में इन गंतव्यों तक आवाजाही को अनुमति दी जा सकती है। उन्होंने इस संबंध में एसडीएम और पुलिस को सीमा सड़क संगठन के अधिकारियों के साथ तालमेल रखते हुए सड़कों की स्थिति का आंकलन करने के बाद ही निर्णय लेने को कहा। उन्होंने इस संबंध में स्थानीय लोगों व एसोसियेशनों के सुझाव भी आमंत्रित किये हैं। गोविंद ठाकुर ने कहा कि स्थानीय लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इस बात का सदैव ध्यान रखा जाएगा।
शिक्षा मंत्री ने अटल टनल व गुलाबा तक पर्यटन गतिविधियों को सुचारू रखने के उद्देश्य से एसडीएम को उप-समितियां गठित करने को कहा। उन्होंने कहा कि इन समितियों में होटल, टैक्सी, स्कीईंग, पैरा ग्लाईडिंग व अन्य साहसिक गतिविधियों से जुड़े संघों के पदाधिकारियों को शामिल किया जाए। जल्द ही उप-समितियों की बैठक आयोजित करके विभिन्न पर्यटन गंतव्यों में गतिविधियों को जारी रखने के संबंध मंे निर्णय लिये जाएं। उन्होंने कहा कि मौसम के अनुरूप उप समितियों की समय-समय पर बैठकें आयोजित की जाएंगी ताकि पर्यटन गतिविधियां प्रभावित न हों और स्थानीय लोगों को भी किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

अहिंसा और हिंसा के बीच की खींचतान "वन्स इन इंडिया "

अहिंसा और हिंसा के बीच की खींचतान “वन्स इन इंडिया “ आयुषी त्रिपाठी एक नौजवान रंगमंच निर्देशिका के रूप में अपने पहले नाटक वन्स इन इंडिया जो की प्रसिद्ध नाटककार दया प्रकाश सिन्हा की नाट्य रचना “रक्त अभिषेक का अंग्रेजी अनुवाद हैं, में गैर ज़रूरी अहिंसा और आत्म रक्षा के […]

You May Like


©2022. All rights reserved . Maintained By: H.T.Logics Pvt Ltd