देश की सुरक्षा और पर्यटन को पंख लगाने वाला अनुराग का ड्रीम प्रोज़ेक्ट बिलासपुर-मनाली-लेह रेल लाइन

0 0
Spread the love
Read Time:10 Minute, 26 Second

देश की सुरक्षा और पर्यटन को पंख लगाने वाले ड्रीम प्रोज़ेक्ट

 बिलासपुर-मनाली -लेह रेल लाइन को अनुराग ठाकुर ने दिए 420 करोड़.

THE NEWS WARRIOR 

BILASPUR 06 /02/2021

 

 केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री अनुराग  सिंह ठाकुर

 

*वित्तवर्ष 2020 – 21 के लिए हिमाचल प्रदेश में रेलवे विस्तार के लिए 720 करोड़ रुपए किए मंज़ूर 

*हिमाचल में रेल विस्तार की तुलना करें तो यूपीए शासन काल से  667 % ज़्यादा लाए अनुराग 

*वर्ष 2008-09 में पहली बार  सांसद  बने अनुराग ठाकुर ने भानुपल्ली बिलासपुर को रेल बजट में सर्वे के लिए  दिलाया था स्थान

*पढ़ें कब तक पहुंचेगी बिलासपुर में ट्रेन ?

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री अनुराग सिंह ठाकुर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी   के मन की बात को समझतें हैं, इन्हें मालूम है कि चीन को सीमा पर जवाब देने के लिए बिलासपुर-मनाली -लेह रेल लाइन प्रोज़ेक्ट मोदी  सरकार के लिए  कितना महत्वपूर्ण है.मोदी सरकार समुंद्र तल से  5,360 मीटर ऊँचे इस  रेल लाइन प्रोज़ेक्ट के निर्माण में तेजी लानी चाहती है. इसलिए बजट में इस प्रोज़ेक्ट को प्राथमिकता दी और अनुराग सिंह ठाकुर ने वित्तवर्ष 2020 – 21 में सीमापार से बढ़ते तनाव व गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए इस बार के बजट में देश की सुरक्षा और पर्यटन को पंख लगाने वाली सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण भानुपल्ली – बिलासपुर रेल लाइन को  इस वित्तीय बजट में 420 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है.ताकि यह जल्द से जल्द बनकर तैयार हो सके और  भविष्य में सीमा पर किसी भी परिस्थिति में सेना को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े”.अगर हम हिमाचल में रेल विस्तार की तुलना यूपीए शासन काल के वर्ष  2009 – 2014 ( 108 करोड़ रुपए प्रति वर्ष  )करें तो अनुराग ठाकुर ने  तो इस वित्तीय बजट में ही (720 करोड़ ) यानि 667 % से ज्यादा बजट लाने में कामयाब हासिल कर ली है  ।

 

हिमाचल में रेल विस्तार पर जाने कहां होगा बजट खर्च 

भानुपल्ली-बिलासपुर-बेरी रेल लाइन के लिए 420 करोड़ ,

चंडीगढ़-बद्दी रेललाइन को 200 करोड़ रुपये ,

नंगल- तलवाड़ा रेल लाइन के लिए 100 करोड़ रुपए

 

  पढ़ें क्या है स्टेटस भानुपल्ली – बिलासपुर रेल लाइन का ?

भानुपल्ली बिलासपुर बैरी रेललाइन को वर्ष 2002-03 तत्कालीन प्रदेश की धूमल सरकार ने चंडीगड़ बद्दी,घनौली बद्दी, जोगिन्दरनगर मंडी और बिलासपुर मनाली लेह रेललाइन का प्रस्ताव भेजे थे।वर्ष 2008-09 में पहली बार बने सांसद अनुराग ठाकुर ने भानुपल्ली बिलासपुर को रेल बजट में सर्वे के लिए स्थान दिलाया था व 2007-08 में चंडीगढ़-बद्दी को रेलबजट में स्थान मिला था।

 

  1. बिलासपुर से लेह टाउन के बीच 475 किलोमीटर लंबी ब्रॉडगेज पटरी बिछाने का काम भी शुरू हो गया है 
  2. कंट्रोल प्वाइंट स्थानों की पहचान के लिए कुल रेल मार्ग 475 किलोमीटर के प्राथमिक भू-सर्वेक्षण का कार्य पूरा
  3. पुल, सुरंग, स्टेशनों के महत्वपूर्ण स्थानों पर 184 कंट्रोल प्वाइंटों वाले 89 स्थानों की पहचान की गई है।
  4. 1500 किलोमीटर मार्ग के तीसरे चरण की लेवलिंग का काम पूरा हो गया है।
  5. भानुपल्ली से धरोट फर्स्ट  फेज
  6. सात टनल व पांच पुल शुरू के 20 कि मी में पंजाब के 9 गांव व हिमाचल के 11गांव आने है।
  7. 650 करोड़  की लागत से ट्रैक बिछाना टेंडर प्रक्रिया पूर्ण।
  8. धरोट से जकातखाना 2nd फेज 12 कि मी
  9. जकातखाना से बिलासपुर 3rd फेज 20 किमी
  10. फेज 3rd में अधिकतर भूमि सरकारी है जिसको अर्जन करने में कम दिक्कत होगी। सिर्फ पेड़ों का विषय आएगा तो उनकी गिनती वन विभाग कर रहा है।
  11. 32 किमी का अधिग्रहण पूरा, बीबीएमबी की जमीन का मिला एनओसी
  12. भानुपल्ल्ली-बैरी रेल लाइन के निर्माण के लिए बिलासपुर में 52 किलोमीटर पर भूमि का अधिग्रहण किया जाना है, जिसमें से 32 किलोमीटर पर अधिग्रहण किया जा चुका है।
  13. 303 बीघा भूमि के लिए बीबीएमबी का एनओसी मिल गया है। वन विभाग के एनओसी पर भी कार्य किया जा रहा है।
  14. रेलवे लाइन के लिए टी-1, टी-2 टनल की लंबाई करीब 1422 मीटर है जिनका काम चल रहा है।
  15. टी-4 की लंबाई 745 मीटर व टी-5 की लंबाई करीब 670 मीटर है, जिनका काम चल रहा है।
  16. टनलों का काम पूरा करने के लिए दो साल का समय दिया गया है। आगामी एक साल में इसे पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं।
  17. *सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण बिलासपुर-मनाली-लेह परियोजना के प्राथमिक भू सर्वेक्षण का काम पूरा
  18.  1500 किलोमीटर रेल सेक्शन की लेवलिंग का काम भी पूरा हो गया है

 

पांच सालों में भानुपल्ली-बिलासपुर रेललाइन के लिए अनुराग ठाकुर लाए बजट 

2015-16         355 करोड़
2016-17         200करोड़
2017-18         250 करोड़
2018-19         200 करोड़
2019-20        255 करोड़
2020-21        420करोड़
2021-22         408 करोड़

सुमीत शर्मा
सदस्य, उत्तर रेलवे सलाहकार समिति 

सांसद अनुराग की देश की सुरक्षा और पर्यटन को बढ़ावा है प्राथमिकता 

विकास एक सतत होने वाली प्रक्रिया है और हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के जिला बिलासपुर को भी रेल मानचित्र पर उचित स्थान मिले उसके लिए सांसद व केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर दृढ़ता से अपने संसदीय क्षेत्र की आवाज को प्राथमिकता के आधार से उठाने में सफल हुए हैं।उसी कड़ी में भानुपल्ली बिलासपुर रेललाइन जोकि सामरिक दृष्टि से भी मुख्य रेल मार्ग है के निर्माण में गत छ वर्षों से केंद्रीय बजट में उचित धनराशि की व्यवस्था की जा रही है और इस वित्तीय वर्ष में भी 420 करोड़ की राशि का आबंटन किया गया है।ताकि इस रेल लाइन के लिए भी जल्द से जल्द भू अधिग्रहण के पश्चात निर्माण किया जा सके।
जिस नंगल उना तलवाड़ा रेल लाइन का वर्ष 1974 में शिलान्यास हुआ था उस रेललाइन को 9 मार्च-2020 को स्थानीय सांसद अनुराग सिंह ठाकुर ने अपने 12 वर्ष के कार्यकाल में जिला ऊना की अंतिम सीमा पर स्तिथ दौलतपुर रेलवे स्टेशन तक पहुंचाने में सफलता अर्जित की है। जिसमें कि अम्ब आंदोरा, चिंतपूर्णी मार्ग और दौलतपुर चौक स्टेशन का निर्माण हुआ।

 

उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने कहा, किसी भी सर्वेक्षण में लेवलिंग का मुख्य उद्देश्य निर्धारित प्वाइंटों के एलिवेशन का पता लगाना है। निर्माण दल ने कम तापमान और कम ऑक्सीजन स्तर वाले दुनिया के सबसे ऊंचे दर्रों में से एक पर लेवलिंग का कार्य पूरा कर लिया है। परामर्श समूह दे रहा है सुझाव रेलवे ने निर्माण के दौरान तकनीकी सहायता के लिए एक परामर्श समूह का गठन किया है।एफसीए क्लियरेंस  के लिए 40 फीसदी तक की आपत्तियां क्षेत्रीय कार्यालय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय देहरादून ही कर देगा। इससे अधिक आपत्तियां हुई तो केस मंत्रालय जाएगा।फेज दो में 12 आपत्तियां आई हैं जिसमे से 5 आपत्तियां वन विभाग की 7 आपत्तियां रेलवे की हैं।अगर निर्माण कार्य इसी गति से चलता रहा तो चार साल में बिलासपुर तक पहुंच जाएगी रेल.

यह भी पढ़ें -: इस दिन होगा हिमाचल स्टेट महिला सीनियर क्रिकेट टीम का ट्रायल पढ़ें पूरी खबर

 

 

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Next Post

विभ्रम और बिखरावग्रस्त विपक्ष और भविष्य की राजनीति - डॉ मामराज पुंडीर

Spread the love डॉ मामराज पुंडीर राजनितिक शास्त्र प्रवक्ता 9418890000 mamraj.pundir@rediffmail.com यह लेखक के निजी विचार हैं   विभ्रम और बिखरावग्रस्त विपक्ष और भविष्य की राजनीति ! आज भारत के विपक्षी दलों में आपसी अविश्वास और बिखराव है I विपक्ष का क्रमशः सिकुड़ते जाना लोकतान्त्रिक व्यवस्था के लिए शुभ संकेत […]